जिस्म के #घाव तो भर …

जिस्म के #घाव तो भर ही जायेंगे एक दिन…

खैरियत उनकी पूछो जिनके #दिल ❤ पर #वार 💔 हुआ है…
#शुभप्रभात
#सचिन

Advertisements

जिस्म के #घाव तो भर ही जायेंगे एक दिन…

खैरियत उनकी पूछो जिनके #दिल ❤ पर #वार 💔 हुआ है…
#शुभप्रभात
#सचिन

Posted by | View Post | View Group
Advertisements

बडी लम्बी खामोशी …

बडी लम्बी खामोशी से गुजरा हूँ मै ,
किसी से कुछ कहने की कोशिश मे।
.
SHoaiB

बडी लम्बी खामोशी से गुजरा हूँ मै ,
किसी से कुछ कहने की कोशिश मे।
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

#सलीम_कौसर …

#सलीम_कौसर
———————————————
मैं ख़्याल हूँ किसी और का मुझे सोचता कोई और है
सरे-आईना मेरा अक्स है पसे-आइना कोई और है।

मैं किसी की दस्ते-तलब में हूँ तो किसी की हर्फ़े-दुआ में हूँ
मैं नसीब हूँ किसी और का मुझे माँगता कोई और है।

अजब ऐतबार-ओ-बे-ऐतबार के दरम्यान है ज़िंदगी
मैं क़रीब हूँ किसी और के मुझे जानता कोई और है।

तेरी रोशनी मेरे खद्दो-खाल से मुख्तलिफ़ तो नहीं मगर
तू क़रीब आ तुझे देख लूँ तू वही है या कोई और है।

तुझे दुश्मनों की खबर न थी मुझे दोस्तों का पता नहीं
तेरी दास्ता कोई और थी मेरा वाक़्या कोई और है।

वही मुंसिफ़ों की रवायतें वहीं फैसलों की इबारतें
मेरा जुर्म तो कोई और था पर मेरी सजा कोई और है।

कभी लौट आएँ तो पूछना नहीं देखना उन्हें ग़ौर से
जिन्हें रास्ते में ख़बर हुईं कि ये रास्ता कोई और है।

जो मेरी रियाज़त-ए-नीम-शब को ‘सलीम’ सुबह न मिल सकी
तो फिर इसके माने तो ये हुए कि यहाँ ख़ुदा कोई और है।

Admin #brij

#सलीम_कौसर
———————————————
मैं ख़्याल हूँ किसी और का मुझे सोचता कोई और है
सरे-आईना मेरा अक्स है पसे-आइना कोई और है।

मैं किसी की दस्ते-तलब में हूँ तो किसी की हर्फ़े-दुआ में हूँ
मैं नसीब हूँ किसी और का मुझे माँगता कोई और है।

अजब ऐतबार-ओ-बे-ऐतबार के दरम्यान है ज़िंदगी
मैं क़रीब हूँ किसी और के मुझे जानता कोई और है।

तेरी रोशनी मेरे खद्दो-खाल से मुख्तलिफ़ तो नहीं मगर
तू क़रीब आ तुझे देख लूँ तू वही है या कोई और है।

तुझे दुश्मनों की खबर न थी मुझे दोस्तों का पता नहीं
तेरी दास्ता कोई और थी मेरा वाक़्या कोई और है।

वही मुंसिफ़ों की रवायतें वहीं फैसलों की इबारतें
मेरा जुर्म तो कोई और था पर मेरी सजा कोई और है।

कभी लौट आएँ तो पूछना नहीं देखना उन्हें ग़ौर से
जिन्हें रास्ते में ख़बर हुईं कि ये रास्ता कोई और है।

जो मेरी रियाज़त-ए-नीम-शब को ‘सलीम’ सुबह न मिल सकी
तो फिर इसके माने तो ये हुए कि यहाँ ख़ुदा कोई और है।

Admin #brij

Posted by | View Post | View Group

दाग दुनिया ने दिए, …

दाग दुनिया ने दिए, जख़्म ज़माने से मिले!
हम को तोहफे, ये तुम्हें, दोस्त बनाने से मिले!

हम तरसते ही तरसते ही,तरसते ही रहे!
वो फलाने से, फलाने से, फलाने से मिले!

ख़ुद से मिल जाते तो चाहत का भरम रह जाता!
क्या मिले आप जो लोगों के मिलाने से मिले

माँ की आगोश में कल मौत की आगोश में आज
हम को दुनिया में ये दो वक्त सुहाने से मिले!

कभी लिखवाने गए ख़त कभी पढ़वाने गए,
हम हसीनों से इसी हीले बहाने से मिले!

इक नया जख़्म मिला एक नई उम्र मिली,
जब किसी शहर में कुछ यार पुराने से मिले!

एक हम ही नहीं फिरते हैं, लिए किस्सा-ए-गम,
उन के खामोश, लबों पर भी फसाने से मिले!

कैसे माने के, उन्हें भूल गया, तू ऐ ‘कैफ’,
उन के खत आज हमें तेरे सिरहाने से मिले..
#कैफ_भोपाली

Admin #brij

दाग दुनिया ने दिए, जख़्म ज़माने से मिले!
हम को तोहफे, ये तुम्हें, दोस्त बनाने से मिले!

हम तरसते ही तरसते ही,तरसते ही रहे!
वो फलाने से, फलाने से, फलाने से मिले!

ख़ुद से मिल जाते तो चाहत का भरम रह जाता!
क्या मिले आप जो लोगों के मिलाने से मिले

माँ की आगोश में कल मौत की आगोश में आज
हम को दुनिया में ये दो वक्त सुहाने से मिले!

कभी लिखवाने गए ख़त कभी पढ़वाने गए,
हम हसीनों से इसी हीले बहाने से मिले!

इक नया जख़्म मिला एक नई उम्र मिली,
जब किसी शहर में कुछ यार पुराने से मिले!

एक हम ही नहीं फिरते हैं, लिए किस्सा-ए-गम,
उन के खामोश, लबों पर भी फसाने से मिले!

कैसे माने के, उन्हें भूल गया, तू ऐ ‘कैफ’,
उन के खत आज हमें तेरे सिरहाने से मिले..
#कैफ_भोपाली

Admin #brij

Posted by | View Post | View Group

ख़ुद्दारी वजह रही …

ख़ुद्दारी वजह रही कि ज़माने को कभी हज़म नहीं हुए हम
पर ख़ुद की नज़रों में यकीं मानो कभी कम नहीं हुए हम !!
.
SHoaiB

ख़ुद्दारी वजह रही कि ज़माने को कभी हज़म नहीं हुए हम
पर ख़ुद की नज़रों में यकीं मानो कभी कम नहीं हुए हम !!
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

मुझे भी करनी बहुत …

मुझे भी करनी बहुत सी शिकायतें ए ज़िन्दगी तुझ से …
अब तू यूँ ही सुन लेगी या प्रेस कांफ्रेंस करूँ!
.
SHoaiB

मुझे भी करनी बहुत सी शिकायतें ए ज़िन्दगी तुझ से …
अब तू यूँ ही सुन लेगी या प्रेस कांफ्रेंस करूँ!
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

रिश्तों में निख़ार …

रिश्तों में निख़ार सिर्फ हाथ मिलाने से नहीं आता,

विपरीत हालातों में हाथ थामें रहने से आता है।
.
SHoaiB

रिश्तों में निख़ार सिर्फ हाथ मिलाने से नहीं आता,

विपरीत हालातों में हाथ थामें रहने से आता है।
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

सुनो मोदी जी😎 …

सुनो मोदी जी😎

इन #गोलगप्पे वालो का कुछ करो,
1⃣0⃣ के 3⃣ हो गए ठकुराइन👸 नाराज😠 हैं बहुत…
#सचिन

सुनो मोदी जी😎

इन #गोलगप्पे वालो का कुछ करो,
1⃣0⃣ के 3⃣ हो गए ठकुराइन👸 नाराज😠 हैं बहुत…
#सचिन

Posted by | View Post | View Group

दिल के बदले दर्द …

दिल के बदले दर्द खरीदा आग लगी मेरी चतुराई में..

कितना सस्ता बेच दिया दिल मेने इस महंगाई में..
#सचिन

दिल के बदले दर्द खरीदा आग लगी मेरी चतुराई में..

कितना सस्ता बेच दिया दिल मेने इस महंगाई में..
#सचिन

Posted by | View Post | View Group

कुछ लड़कियाँ …

कुछ लड़कियाँ जिंदगी मे ऐसी आती है..

जैसे YouTube मे वीडियो देखते वक्त बीच मे 5sec का ad…
#सचिन

कुछ लड़कियाँ जिंदगी मे ऐसी आती है..

जैसे YouTube मे वीडियो देखते वक्त बीच मे 5sec का ad…
#सचिन

Posted by | View Post | View Group