इधर कश्मकश प्रेम …

इधर कश्मकश प्रेम की उधर प्रीत
मगरुर,
जो भीगे वो ही जाने फागुन के दस्तूर..
#आप #सभी #मित्रो को #रंग के #पर्व #होली की #अनंत #शुभकामनाएं
#सचिन

Advertisements

इधर कश्मकश प्रेम की उधर प्रीत
मगरुर,
जो भीगे वो ही जाने फागुन के दस्तूर..
#आप #सभी #मित्रो को #रंग के #पर्व #होली की #अनंत #शुभकामनाएं
#सचिन

Posted by | View Post | View Group
Advertisements

इमारतें बनायी …

इमारतें बनायी जाती हैं
एवरेस्ट तो बन जाते हैं।

गुरूर है मियाँ अना नहीं
जो कभी हम तन जाते हैं।

वो घर नहीं ,इक मकां है
वहाँ सिर्फ बदन जाते हैं।
#नीलाभ

इमारतें बनायी जाती हैं
एवरेस्ट तो बन जाते हैं।

गुरूर है मियाँ अना नहीं
जो कभी हम तन जाते हैं।

वो घर नहीं ,इक मकां है
वहाँ सिर्फ बदन जाते हैं।
#नीलाभ

Posted by | View Post | View Group

मैं भूला नहीं हूँ …

मैं भूला नहीं हूँ तुझे..

बस अब याद नहीं करता..

#ऋषि

मैं भूला नहीं हूँ तुझे..

बस अब याद नहीं करता..

#ऋषि

Posted by | View Post | View Group

तू भेज रंग अपनी …

तू भेज रंग अपनी #मोहब्बत के वहाँ से…

हम भीगेंगे उन #रंगों की #बरसात में यहाँ पे ❤️❤️

#Mr_ChAndrEsh………………!!

तू भेज रंग अपनी #मोहब्बत के वहाँ से…

हम भीगेंगे उन #रंगों की #बरसात में यहाँ पे ❤️❤️

#Mr_ChAndrEsh………………!!

Posted by | View Post | View Group

#मुहब्बत कुछ अलग सी …

#मुहब्बत कुछ अलग सी हैं #मेरी_तुझसे….

#तुम #ख़्वाबों में ही नही #दुआओ में भी रहते हो 😘❤️

#ChaNdresh…………….!!

#मुहब्बत कुछ अलग सी हैं #मेरी_तुझसे….

#तुम #ख़्वाबों में ही नही #दुआओ में भी रहते हो 😘❤️

#ChaNdresh…………….!!

Posted by | View Post | View Group

सुनो …

सुनो
तुम अपना गुरूर संभाल कर रखो,,,
हमने अब चाय से दिल लगा लिया है…!!
.
SHoaiB

सुनो
तुम अपना गुरूर संभाल कर रखो,,,
हमने अब चाय से दिल लगा लिया है…!!
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

मसला ये नहीं की गम …

मसला ये नहीं की गम कितना है,
मुद्दा ये है कि परवाह किसको है..😎

मसला ये नहीं की गम कितना है,
मुद्दा ये है कि परवाह किसको है..😎

Posted by | View Post | View Group

लिखी हुई बात को …

लिखी हुई बात को प्रत्येक पड़ने वाला नहीं समझ सकता, क्योंकि लिखने वाला भावनाएं लिखता है..
और लोग केवल शब्द पड़ते है..😎

लिखी हुई बात को प्रत्येक पड़ने वाला नहीं समझ सकता, क्योंकि लिखने वाला भावनाएं लिखता है..
और लोग केवल शब्द पड़ते है..😎

Posted by | View Post | View Group

रिश्तों को कुछ इस …

रिश्तों को कुछ इस तरह बचा लिया करो..

कभी मान लिया करो तो कभी मना लिया करो..

#ऋषि

रिश्तों को कुछ इस तरह बचा लिया करो..

कभी मान लिया करो तो कभी मना लिया करो..

#ऋषि

Posted by | View Post | View Group

क्या खाक़ तरक्की की …

क्या खाक़ तरक्की की है मैडिकल साइंस ने..

इश्क़ का रोग आज भी लाइलाज है..

#ऋषि

क्या खाक़ तरक्की की है मैडिकल साइंस ने..

इश्क़ का रोग आज भी लाइलाज है..

#ऋषि

Posted by | View Post | View Group