आँखों की दहलीज़ पे …

आँखों की दहलीज़ पे आके सपना बोला आंसू से,

घर तो आखिर घर होता है तुम रह लो या मैं रह लूँ…. :))
#Rishi

आँखों की दहलीज़ पे आके सपना बोला आंसू से,

घर तो आखिर घर होता है तुम रह लो या मैं रह लूँ…. :))
#Rishi

Posted by | View Post | View Group

ना कर तू इतनी …

ना कर तू इतनी कोशिशे, मेरे दर्द को समझने की….!! 😞
.
.
तू पहले इश्क़ कर😍, फिर चोट खा😢, फिर लिख दवा मेरे दर्द की…💔
#Rishi
9827749580

ना कर तू इतनी कोशिशे, मेरे दर्द को समझने की….!! 😞
.
.
तू पहले इश्क़ कर😍, फिर चोट खा😢, फिर लिख दवा मेरे दर्द की…💔
#Rishi
9827749580

Posted by | View Post | View Group

आशियाने बनें भी तो …

आशियाने बनें भी तो कहाँ जनाब,,,

जमिनें महँगी हो चली और ..दिल में कोई जगह नही देते.. :))
#Rishi

आशियाने बनें भी तो कहाँ जनाब,,,

जमिनें महँगी हो चली और ..दिल में कोई जगह नही देते.. :))
#Rishi

Posted by | View Post | View Group

*✍🏾‘‘माना कि तुम …

*✍🏾‘‘माना कि तुम गुफ़्तगू के फ़न में माहिर हो….,,*

*वफ़ा के लफ्ज़ पर अटको तो हमें याद कर लेना’’…!!*
#Rishi

*✍🏾‘‘माना कि तुम गुफ़्तगू के फ़न में माहिर हो….,,*

*वफ़ा के लफ्ज़ पर अटको तो हमें याद कर लेना’’…!!*
#Rishi

Posted by | View Post | View Group

आओ तो सही , …

आओ तो सही , लिबास~ऐ~दुल्हन में मेरे घर,
जान भी दे देंगे, रिवाज़~ऐ~मुह दिखाई में….
#Rishi..
9827749580

आओ तो सही , लिबास~ऐ~दुल्हन में मेरे घर,
जान भी दे देंगे, रिवाज़~ऐ~मुह दिखाई में….
#Rishi..
9827749580

Posted by | View Post | View Group

गिनती में ज़रा …

गिनती में ज़रा कमज़ोर हूँ मैं,
ज़ख्म बेहिसाब़ न दिया करो, दुगना करके वापीस दुंगा !!
#Rishi

गिनती में ज़रा कमज़ोर हूँ मैं,
ज़ख्म बेहिसाब़ न दिया करो, दुगना करके वापीस दुंगा !!
#Rishi

Posted by | View Post | View Group

खिलखिलाती धूप सा …

खिलखिलाती धूप सा मेरा इश्क़……!!
और ,…
सर्द रातो सा तेरा याद आना…..!!
#Rishi

खिलखिलाती धूप सा मेरा इश्क़……!!
और ,…
सर्द रातो सा तेरा याद आना…..!!
#Rishi

Posted by | View Post | View Group

तुम सो जाओ अपनी …

तुम सो जाओ अपनी दुनिया में आराम से,
Shoaib..
मेरा अभी इस रात से कुछ हिसाब बाकी है !!
#Rishi
Gud wala night alll

तुम सो जाओ अपनी दुनिया में आराम से,
Shoaib..
मेरा अभी इस रात से कुछ हिसाब बाकी है !!
#Rishi
Gud wala night alll

Posted by | View Post | View Group

टूटे हुए कांच की …

टूटे हुए कांच की तरह चकनाचुर हो गये..

किसी को लग ना जायें, इसलिए सब सें दूर हो गये… :))
#Rishi..

टूटे हुए कांच की तरह चकनाचुर हो गये..

किसी को लग ना जायें, इसलिए सब सें दूर हो गये… :))
#Rishi..

Posted by | View Post | View Group

हम अल्फ़ाज़ों को …

हम अल्फ़ाज़ों को ढूंढते रह गए….

और वो आँखों से गज़ल कह गए … :))
#Rishi

हम अल्फ़ाज़ों को ढूंढते रह गए….

और वो आँखों से गज़ल कह गए … :))
#Rishi

Posted by | View Post | View Group