Mulakaat

चन्द लम्हों के लिए एक मुलाक़ात रही,
फिर ना वो तू, ना वो मैं, ना वो रात रही।

Posted by | View Post | View Group