शिकायत बस इतनी सी है तुझसे। तू मेरा नही था…

शिकायत बस इतनी सी है तुझसे।
तू मेरा नही था तो होने की उम्मीद क्यों जगाई।
@शीष

Posted by | View Post | View Group

जहाँ भूली हुई …

जहाँ भूली हुई यादें दामन थाम लें दिल का

वहां से अजनबी बन कर गुज़र जाना ही अच्छा है

#ऋषि

जहाँ भूली हुई यादें दामन थाम लें दिल का

वहां से अजनबी बन कर गुज़र जाना ही अच्छा है

#ऋषि

Posted by | View Post | View Group

मैं तुझे फिर …

मैं तुझे फिर मिलूँगी
#AMRITA_PRITAM..जन्मदिन पर विशेष

मैं तुझे फिर मिलूँगी
कहाँ कैसे पता नहीं
शायद तेरी कल्पनाओं
की प्रेरणा बन
तेरे केनवास पर उतरुँगी
या तेरे केनवास पर
एक रहस्यमयी लकीर बन
ख़ामोश तुझे देखती रहूँगी
मैं तुझे फिर मिलूँगी
कहाँ कैसे पता नहीं

या सूरज की लौ बन कर
तेरे रंगो में घुलती रहूँगी
या रंगो की बाँहों में बैठ कर
तेरे केनवास पर बिछ जाऊँगी
पता नहीं कहाँ किस तरह
पर तुझे ज़रुर मिलूँगी

या फिर एक चश्मा बनी
जैसे झरने से पानी उड़ता है
मैं पानी की बूंदें
तेरे बदन पर मलूँगी
और एक शीतल अहसास बन कर
तेरे सीने से लगूँगी

मैं और तो कुछ नहीं जानती
पर इतना जानती हूँ
कि वक्त जो भी करेगा
यह जनम मेरे साथ चलेगा
यह जिस्म ख़त्म होता है
तो सब कुछ ख़त्म हो जाता है

पर यादों के धागे
कायनात के लम्हें की तरह होते हैं
मैं उन लम्हों को चुनूँगी
उन धागों को समेट लूंगी
मैं तुझे फिर मिलूँगी
कहाँ कैसे पता नहीं

मैं तुझे फिर मिलूँगी!!

मैं तुझे फिर मिलूँगी
#AMRITA_PRITAM..जन्मदिन पर विशेष

मैं तुझे फिर मिलूँगी
कहाँ कैसे पता नहीं
शायद तेरी कल्पनाओं
की प्रेरणा बन
तेरे केनवास पर उतरुँगी
या तेरे केनवास पर
एक रहस्यमयी लकीर बन
ख़ामोश तुझे देखती रहूँगी
मैं तुझे फिर मिलूँगी
कहाँ कैसे पता नहीं

या सूरज की लौ बन कर
तेरे रंगो में घुलती रहूँगी
या रंगो की बाँहों में बैठ कर
तेरे केनवास पर बिछ जाऊँगी
पता नहीं कहाँ किस तरह
पर तुझे ज़रुर मिलूँगी

या फिर एक चश्मा बनी
जैसे झरने से पानी उड़ता है
मैं पानी की बूंदें
तेरे बदन पर मलूँगी
और एक शीतल अहसास बन कर
तेरे सीने से लगूँगी

मैं और तो कुछ नहीं जानती
पर इतना जानती हूँ
कि वक्त जो भी करेगा
यह जनम मेरे साथ चलेगा
यह जिस्म ख़त्म होता है
तो सब कुछ ख़त्म हो जाता है

पर यादों के धागे
कायनात के लम्हें की तरह होते हैं
मैं उन लम्हों को चुनूँगी
उन धागों को समेट लूंगी
मैं तुझे फिर मिलूँगी
कहाँ कैसे पता नहीं

मैं तुझे फिर मिलूँगी!!

Posted by | View Post | View Group

मुहब्बत में सभी …

मुहब्बत में सभी शक्तियाँ होती हैं ,
पर एक बोलने की शक्ति नहीं होती
.
SHoaiB

मुहब्बत में सभी शक्तियाँ होती हैं ,
पर एक बोलने की शक्ति नहीं होती
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

बैठे हैं आज फुरसत …

बैठे हैं आज फुरसत से..

तेरी फुरसत के इंतज़ार में….
#सोनू

बैठे हैं आज फुरसत से..

तेरी फुरसत के इंतज़ार में….
#सोनू

Posted by | View Post | View Group

जिस तमन्ना में …

जिस तमन्ना में गुज़रती है जवानी मेरी
मैं ने अब तक नहीं जाना वो तमन्ना क्या है
.
SHoaiB

जिस तमन्ना में गुज़रती है जवानी मेरी
मैं ने अब तक नहीं जाना वो तमन्ना क्या है
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

कोई मेरे वाले को भी …

कोई मेरे वाले को भी मैडल दे दो,
अच्छा खेल गया मेरे दिल के साथ
#some_girls_stories
.
SHoaiB

कोई मेरे वाले को भी मैडल दे दो,
अच्छा खेल गया मेरे दिल के साथ
#some_girls_stories
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

अज़ब सी कश्मकश है …

अज़ब सी कश्मकश है रोज़ जीने और मरने में,
मुकम्मल ज़िन्दगी तो है, मगर पूरी से कुछ कम है…
.
SHoaiB

अज़ब सी कश्मकश है रोज़ जीने और मरने में,
मुकम्मल ज़िन्दगी तो है, मगर पूरी से कुछ कम है…
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

एक अश्क की कीमत एक …

एक अश्क की कीमत एक पैसा भी हो अगर..
तो सुनो तुम लाखो के कर्जदार हो मेरे..
#सचिन

एक अश्क की कीमत एक पैसा भी हो अगर..
तो सुनो तुम लाखो के कर्जदार हो मेरे..
#सचिन

Posted by | View Post | View Group

याद #इंतजार #खुशी …

याद #इंतजार #खुशी #आंसू
#ग़म #तन्हाई
ना जाने मोहब्बत….
कौन सी मंजिल को कहते हैं…☆Rv

याद #इंतजार #खुशी #आंसू
#ग़म #तन्हाई
ना जाने मोहब्बत….
कौन सी मंजिल को कहते हैं…☆Rv

Posted by | View Post | View Group