इत्र से कपड़ो को …

इत्र से कपड़ो को महकाना कोई बड़ी बात नहीं
मजा तो तब है जब ख़ुश्बू आपके किरदार से आऐ

Advertisements

इत्र से कपड़ो को महकाना कोई बड़ी बात नहीं
मजा तो तब है जब ख़ुश्बू आपके किरदार से आऐ

Posted by | View Post | View Group
Advertisements

मासूम हैं वो हमसे ही पूछते है नुस्खे.. मोहब्बत में…

मासूम हैं वो हमसे ही पूछते है नुस्खे.. मोहब्बत में न पड़ने के,
पता अगर होता तो क्यों आज हम यँहा होते न ही यूँ तनहा होते।

Posted by | View Post | View Group

शायर हूँ…….. तो ग़मो से क्यों करूँ परहेज़, हालात जितने…

शायर हूँ…….. तो ग़मो से क्यों करूँ परहेज़,
हालात जितने नाज़ुक.. कलम उतनी ही तेज़..!

Posted by | View Post | View Group

सैकड़ों शिकायतें रट रखी थी तुम्हे सुनाने को किताबों की…

सैकड़ों शिकायतें रट रखी थी तुम्हे सुनाने को किताबों की तरह ,
और तुम मुस्कुरा के ऐसे मिले कि एक भी याद नहीं आई..!!

Posted by | View Post | View Group

अजीब रंग में गुजरी हे जिंदगी अपनी……दिलों पर राज़ किया…

अजीब रंग में गुजरी हे जिंदगी अपनी……दिलों
पर राज़ किया और खुद मोहब्बत को तरसे…!!!

Posted by | View Post | View Group

“समझ नही आता जिंदगी तेरा फैसला”. “एक तरफ तू कहती…

“समझ नही आता जिंदगी तेरा फैसला”.
“एक तरफ तू कहती है””सबर का फल मीठा
होता है”…”और दूसरी तरफ कहती है”
“वक्त किसी का इंतजार नही करता”…

Posted by | View Post | View Group

गज़ब की धूप है शहर …

गज़ब की धूप है शहर में फिर भी पता नहीं,
लोगों के दिल यहां पिघलते क्यों नहीं

गज़ब की धूप है शहर में फिर भी पता नहीं,
लोगों के दिल यहां पिघलते क्यों नहीं

Posted by | View Post | View Group

जिन पत्थरो को …

जिन पत्थरो को हमनें अता की थी धडकनें
उनको मिली ज़ुबां तो हम पर बरस पड़े

जिन पत्थरो को हमनें अता की थी धडकनें
उनको मिली ज़ुबां तो हम पर बरस पड़े

Posted by | View Post | View Group

बदन में कै़द खु़द …

बदन में कै़द खु़द को पा रहा हूँ
बड़ी तन्हाई है, घबरा रहा हूँ ।

बदन में कै़द खु़द को पा रहा हूँ
बड़ी तन्हाई है, घबरा रहा हूँ ।

Posted by | View Post | View Group

इश्क है या इबादत, अब कुछ समझ नहीं आता..एक खुबसूरत…

इश्क है या इबादत, अब कुछ समझ नहीं आता..एक
खुबसूरत ख्याल हो तुम जो दिल से नहीं जाता..!!!!

Posted by | View Post | View Group