Adhurapan

लौट आओ वो हिस्सा लेकर, जो साथ ले गये थे तुम..

इस रिश्ते का अधूरापन अब अच्छा नही लगता….!!

Posted by | View Post | View Group
Advertisements

Bardasht

“कर लेता हूँ बर्दाश्त तेरा हर दर्द इसी आस के साथ..
की खुदा नूर भी बरसाता है, आज़माइशों के बाद”.!!!

Posted by | View Post | View Group

Sharminda

शर्मिंदा हूँ उन  फूलों से,
जो मेरे हाथों में ही सूख गये,
तेरा इंतज़ार करते करते

Posted by | View Post | View Group

Intzaar

इंतजार तो किसी का भी नहीं है अब,
_____फिर न जाने क्यों________
पीछे पलट कर देखने की आदत गई नहीं।

Posted by | View Post | View Group

Etbaar

ये मज़ा था दिल्लगी का कि बराबर आग लगती;
न तुम्हें क़रार होता न हमें क़रार होता;

तेरे वादे पर सितमगर अभी और सब्र करते;
अगर अपनी जिन्दगी का हमें ऐतबार होता।

Posted by | View Post | View Group

Intzaar

आँखों को इंतज़ार की भट्टी पे रख दिया
मैंने दिये को आँधी की मर्ज़ी पे रख दिया

Posted by | View Post | View Group

Talabgaar

एक तू मिल जाती, इतना काफ़ी था,
सारी दुनियाँ के तलबगार नहीं थे हम..!!

Posted by | View Post | View Group

Zabt

ज़ब्त से काम लिया दिल ने तो क्या फ़ख़्र करूँ
इसमें क्या इश्क की इज़्ज़त थी कि रुसवा न हुआ

Posted by | View Post | View Group