सबको माफ़ करके सोया …

सबको माफ़ करके सोया करो जिन्दगी कल की मोहताज नहीं होती…

#ऋषि की शायरी

सबको माफ़ करके सोया करो जिन्दगी कल की मोहताज नहीं होती…

#ऋषि की शायरी

Posted by | View Post | View Group

मार्च की क्लोजिंग …

मार्च की क्लोजिंग अब तो खत्म हुई।
अब तो दिल की ओपनिंग पर आ जाओ।।
.
SHoaiB

मार्च की क्लोजिंग अब तो खत्म हुई।
अब तो दिल की ओपनिंग पर आ जाओ।।
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

💕Mohabbat💖 badi ☺besharam hain …

💕Mohabbat💖 badi ☺besharam hain meri😍😘😍
💕Behisaab💖 hoti ja 😍rahi hain💑💕💑
.
#BaBu

💕Mohabbat💖 badi ☺besharam hain meri😍😘😍
💕Behisaab💖 hoti ja 😍rahi hain💑💕💑
.
#BaBu

Posted by | View Post | View Group

शायराना सी हैं …

Posted by | View Post | View Group

उदास कर गई आज की शाम …

उदास कर गई आज की शाम भी मुझे…..

जैसे भुला रहा हो कोई आहिस्ता-आहिस्ता…….
#keval_______patel

उदास कर गई आज की शाम भी मुझे…..

जैसे भुला रहा हो कोई आहिस्ता-आहिस्ता…….
#keval_______patel

Posted by | View Post | View Group

आज शायरी सूना दो …

आज शायरी सूना दो यार आप सब…..

कमेंट में अपनी मनपसन्द लाइन लिखे….

Keval Patel

आज शायरी सूना दो यार आप सब…..

कमेंट में अपनी मनपसन्द लाइन लिखे….

Keval Patel

Posted by | View Post | View Group

मुझे अपनी फ़िक्र …

मुझे अपनी फ़िक्र कहाँ, मुझे तो फ़िक्र तुम्हारे इश्क कि है..!!
जिसका क़त्ल करने कि “इजाजत” मेरा जमीर मुझे नहीं देता.!!
.
SHoaiB

मुझे अपनी फ़िक्र कहाँ, मुझे तो फ़िक्र तुम्हारे इश्क कि है..!!
जिसका क़त्ल करने कि “इजाजत” मेरा जमीर मुझे नहीं देता.!!
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

“बेबस कर दिया …

“बेबस कर दिया तुमने…
अपने बस में करके…..!!!
#keval_______patel

“बेबस कर दिया तुमने…
अपने बस में करके…..!!!
#keval_______patel

Posted by | View Post | View Group

जिस दिन सोचता हूँ …

जिस दिन सोचता हूँ कि ज़िन्दगी में बहुत बड़े बड़े काम करने हैं….
उसी दिन घरवाले गेहूँ पिसवाने भेज देते हैं😝😝
#सचिनपाठक

जिस दिन सोचता हूँ कि ज़िन्दगी में बहुत बड़े बड़े काम करने हैं….
उसी दिन घरवाले गेहूँ पिसवाने भेज देते हैं😝😝
#सचिनपाठक

Posted by | View Post | View Group

वो किताब लौटाने का …

वो किताब लौटाने का बहाना तो लाखों में था..

लोग ढुँढते रहें सबूत, पैग़ाम तो आँखों मे था :))

#ऋषि

वो किताब लौटाने का बहाना तो लाखों में था..

लोग ढुँढते रहें सबूत, पैग़ाम तो आँखों मे था :))

#ऋषि

Posted by | View Post | View Group