मुझे कढ़े हुए तकिये की क्या ज़रूरत है किसी का…

मुझे कढ़े हुए तकिये की क्या ज़रूरत है
किसी का हाथ अभी मेरे सर के नीचे है

#मुनव्वर_राणा #MothersDay

Advertisements

बुज़ुर्गों का मेरे दिल से अभी तक डर नहीं जाता…

बुज़ुर्गों का मेरे दिल से अभी तक डर नहीं जाता
कि जब तक जागती रहती है माँ मैं घर नहीं जाता

#मुनव्वर_राणा #MothersDay

कुछ नहीं होगा तो आँचल में छुपा लेगी मुझे माँ…

कुछ नहीं होगा तो आँचल में छुपा लेगी मुझे
माँ कभी सर पे खुली छत नहीं रहने देगी

#मुनव्वर_राणा #MothersDay

अभी ज़िन्दा है माँ मेरी मुझे कु्छ भी नहीं होगा…

अभी ज़िन्दा है माँ मेरी मुझे कु्छ भी नहीं होगा
मैं जब घर से निकलता हूँ दुआ भी साथ चलती है

#मुनव्वर_राणा #MothersDay

मेरी ख़्वाहिश है कि मैं फिर से फ़रिश्ता हो जाऊँ…

मेरी ख़्वाहिश है कि मैं फिर से फ़रिश्ता हो जाऊँ
माँ से इस तरह लिपट जाऊँ कि बच्चा हो जाऊँ

#मुनव्वर_राणा #MothersDay

लबों पे उसके कभी बद्दुआ नहीं होती बस एक माँ…

लबों पे उसके कभी बद्दुआ नहीं होती
बस एक माँ है जो मुझसे ख़फ़ा नहीं होती

#मुनव्वर_राणा #MothersDay

महक रहा है शायराना सी है ज़िन्दगी का पेज शायद…

महक रहा है शायराना सी है ज़िन्दगी का पेज
शायद वो ऑन लाइन आयीं हैं आज