नहीं थी मुझे कभी …

नहीं थी मुझे कभी कुछ भी लिखने की फुरसत…

एक शख्स के दिए ज़ख्मों ने मुझे “शायर” बना दिया… :))

#ऋषि की शायरी..

नहीं थी मुझे कभी कुछ भी लिखने की फुरसत…

एक शख्स के दिए ज़ख्मों ने मुझे “शायर” बना दिया… :))

#ऋषि की शायरी..

Posted by | View Post | View Group

शायर को मस्त रखती …

शायर को मस्त रखती है,
दाद-ए- मोहब्बत साहिब |

मयखाने भर का नशा होता है,
हर एक वाह -वाह मे ||
#keval_______patel

शायर को मस्त रखती है,
दाद-ए- मोहब्बत साहिब |

मयखाने भर का नशा होता है,
हर एक वाह -वाह मे ||
#keval_______patel

Posted by | View Post | View Group

सबके दिलों में …

सबके दिलों में धडकना जरुरी नहीं होता जनाब…
कुछ लोगों की आँखों में खटकने का भी एक अलग मजा है…!!
.
SHoaiB

सबके दिलों में धडकना जरुरी नहीं होता जनाब…
कुछ लोगों की आँखों में खटकने का भी एक अलग मजा है…!!
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

शायराना सी हैं …

Posted by | View Post | View Group

सुना है तेरे सामने …

सुना है तेरे सामने सब हार जाते हैं
ऐ सनम,,,,
तू इलेक्शन क्यूँ नहीं लड़ती…???
.
SHoaiB

सुना है तेरे सामने सब हार जाते हैं
ऐ सनम,,,,
तू इलेक्शन क्यूँ नहीं लड़ती…???
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

शायराना सी हैं …

Posted by | View Post | View Group

” तसल्ली से …

” तसल्ली से सुनाएंगे तुम्हे दिल के अरमाँ हम ,

घर पर बोलकर आना के तुमको देर हो जाएगी ..!!”
#keval_______patel

” तसल्ली से सुनाएंगे तुम्हे दिल के अरमाँ हम ,

घर पर बोलकर आना के तुमको देर हो जाएगी ..!!”
#keval_______patel

Posted by | View Post | View Group

*मोहब्बत छोड़ दी …

*मोहब्बत छोड़ दी हमने,*
*कोई मुबारक बाद तो दो !*
.
SHoaiB

*मोहब्बत छोड़ दी हमने,*
*कोई मुबारक बाद तो दो !*
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group

मैं यादों पर भी …

मैं यादों पर भी पहरा लगा दूंगा.. आप बस ख्याल ना पूछना…!!!

मैं गुजार ही लूंगा, ये ज़िन्दगी अपनी.. आप बस कोई सवाल ना पूछना…★Rv

मैं यादों पर भी पहरा लगा दूंगा.. आप बस ख्याल ना पूछना…!!!

मैं गुजार ही लूंगा, ये ज़िन्दगी अपनी.. आप बस कोई सवाल ना पूछना…★Rv

Posted by | View Post | View Group

छोड़ो बिखरने देते …

छोड़ो बिखरने देते हैं जिन्दगी को….
आखिर समेटने की भी हद होती है।।
.
SHoaiB

छोड़ो बिखरने देते हैं जिन्दगी को….
आखिर समेटने की भी हद होती है।।
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group