Khafa

अहले-ए-दिल और भी हैं अहल-ए-वफ़ा और भी हैं
एक हम ही नहीं दुनिया से ख़फ़ा और भी हैं

Posted by | View Post | View Group

Author: admin

I just love Shayri

Leave a Reply