ना तुझ तक पहुँचते …

ना तुझ तक पहुँचते हैं…ना लौट कर आते हैं,,,
तुझे लिक्खे मेरे ख़त…हैरां हूँ किधर जाते हैं…!!
.
SHoaiB

Advertisements

ना तुझ तक पहुँचते हैं…ना लौट कर आते हैं,,,
तुझे लिक्खे मेरे ख़त…हैरां हूँ किधर जाते हैं…!!
.
SHoaiB

Posted by | View Post | View Group
Advertisements