Khwahish

कब माँगा हैं मैंने तुमसे खुशियों का खज़ाना
तुम बस
हंस कर हाथ थाम लो इतनी सी ख्वाहिश है

Posted by | View Post | View Group

Author: admin

I just love Shayri

Leave a Reply